टेस्ट क्रिकेट में बदलाव की जरुरत, डे-नाइट टेस्ट मैच से आएगा चेंज- सौरव गांगुली

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि भारतीय टीम ने घरेलू मैदान पर इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला खेली थी जहां मैदान में दर्शकों की काफी कमी रही लेकिन शुक्रवार से शुरू होने वाले डे- नाइट टेस्ट के पहले तीन दिनों के टिकट बिक चुके हैं

टेस्ट क्रिकेट में बदलाव की जरुरत, डे-नाइट टेस्ट मैच से आएगा चेंज- सौरव गांगुली
टेस्ट क्रिकेट में बदलाव की जरुरत, डे-नाइट टेस्ट मैच से आएगा चेंज- सौरव गांगुली

बीसीसीआई के नवनियुक्त अध्यक्ष और भारतीय टीम के सफल कप्तानों में से एक सौरव गांगुली ने टेस्ट क्रिकेट को लेकर बड़ा बयान दिया है. गांगुली ने कहा है कि टेस्ट क्रिकेट में बदलाव की जरुरत है और डे-नाइट टेस्ट मैच ये बदलाव लाने में अहम साबित होगा. भारत में पहले डे-नाइट टेस्ट मैच का आयोजन करने वाले गांगुली ने कहा कि टेस्ट मैच के पारंपरिक प्रारूप में दिलचस्पी बढ़ाने के लिए टेस्ट क्रिकेट में बदलाव की जरूरत है.

 

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि भारतीय टीम ने घरेलू मैदान पर इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला खेली थी जहां मैदान में दर्शकों की काफी कमी रही लेकिन शुक्रवार से शुरू होने वाले डे- नाइट टेस्ट के पहले तीन दिनों के टिकट बिक चुके हैं. पिछले महीने बोर्ड अध्यक्ष बनने के बाद भारत में पहले डे-नाइट टेस्ट मैच का बीड़ा उठाने वाले गांगुली ने कहा, आगे बढ़ने का यही तरीका है, टेस्ट क्रिकेट को कायाकल्प की जरूरत है.

 

गांगुली ने ये भी कहा कि डे-नाइट मैच दुनिया भर में हो रहा है कहीं से इसे शुरू करना ही था. भारत क्रिकेट के मामले में सबसे बड़ा देश है. मुझे लगता है कि यह बदलाव जरूरी है.

 

बता दें कि बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष के रूप में गांगुली ने भारत-पाकिस्तान टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के 2016 में धर्मशाला से स्थानांतरित होने के बाद कम समय में सफलतापूर्वक आयोजन किया था. हालांकि गांगुली का मानना है कि डे-नाइट टेस्ट का आयोजन ज्यादा चुनौतीपूर्ण है.

 

गांगुली का कहना है कि हमारे पास दर्शकों को मैदान में लाने की चुनौती है. वहीं उन्होंने ये भी बताया कि भारत में होने वाले पहले डे-नाइट टेस्ट मैच के पहले तीन दिनों के करीब 65 हजार टिकट बिक चुके हैं.